NEWSLAMP
Hindi news, हिन्‍दी समाचार, Breaking news, Prayagraj news, प्रयागराज समाचार, Allahabad news, न्यूज़लैम्प हिन्दी दैनिक, Newslamp Hindi Daily।

गौतम अडाणी की कंपनियों के आए बुरे दिन! SEBI की जांच के बीच आज अरबपति के शेयरों को हुआ इतना नुकसान

अडाणी ग्रुप की कुछ कंपनियों के खिलाफ चल रही है SEBI की जांच. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: अरबपति गौतम अडाणी की कंपनियों (Adani Group) के लिए मुश्किल वक्त चल रहा है. अनियमितताओं के आरोप में उनकी कुछ कंपनियों की जांच होने की बात सामने आई है, जिसके बाद से उनके शेयरों में कल से फिर गिरावट आने लगी (Adani Shares Fall) है. इसके पहले उनकी कंपनियों में हिस्सेदारी रखने वाली कुछ विदेशी कंपनियों के अकाउंट फ्रीज किए जाने की खबर आई थी, जिसके बाद अडाणी के शेयरों की कीमतें अर्श से फर्श पर आने लगी थीं.

यह भी पढ़ें

आज कंपनी के शेयरों में कितनी आई गिरावट

आज भी अडाणी एंटरप्राइजेज और दूसरी कंपनियों के शेयरों में जबरदस्त गिरावट देखी गई है. अडाणी एंटरप्राइजेज के शेयरों में आज 22.40 अंकों यानी 1.62% की गिरावट दिखी और स्टॉक 1,358.20 के लेवल पर आकर रुका. अडाणी ट्रांसमिशन ने सबसे ज्यादा गिरावट देखी और शेयरों में 48.40 अंकों यानी 5.00% की गिरावट दर्ज हुई और स्टॉक 919.65 की कीमत पर आकर बंद हुआ.

अडाणी टोटल गैस ने 39.00 अंकों यानी 4.56% की गिरावट देखी और स्टॉक 816.00 पर आ गया. अडाणी ग्रीन एनर्जी शेयर की कीमतों में 38.95 अंकों यानी 3.98% की गिरावट आई और स्टॉक 940.20 के स्तर पर बंद हुआ है. 

अडाणी पावर के शेयरों में आज 5.10 अंक यानी 4.99% की गिरावट आई और शेयर 97.05 के स्तर पर बंद हुआ. अडाणी पोर्ट के शेयरों ने भी ठीक-ठाक गिरावट देखी और स्टॉक 1.85 अंक यानी 0.27% गिरकर 671.85 रुपये के स्तर पर बंद हुए. 

Exclusive : अडाणी ग्रुप को शेयरों में 7 बिलियन डॉलर का नुकसान, कंपनी के शीर्ष अधिकारी ने दी सफाई

सदन में उठा था जांच का मुद्दा

अभी सोमवार को ही अडाणी की कंपनियों में जांच का मुद्दा सदन में उठा था और सरकार ने इसकी जानकारी दी थी कि हां जांच चल रही है.  सरकार ने सोमवार को लोकसभा में कहा था कि नियमों की कथित अहवेलना को लेकर बाजार नियामक सेबी और राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) अडाणी समूह की कुछ कंपनियों की जांच कर रहे हैं. 

वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी ने सदन में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया था कि मॉरीशस के उन तीन फंड के खातों को 2016 में फ्रीज कर दिया गया था जिन्होंने अपना ज्यादातर पैसा अडाणी समूह की कंपनियों में निवेश कर रखा है. उन्होंने कोई ब्यौरा दिए बिना कहा, ‘सेबी के प्रावधानों की अनुपालना के संदर्भ में अडाणी समूह की कुछ कंपनियों की जांच की जा रही है.’ मंत्री ने यह भी बताया कि डीआरआर भी इस समूह से जुड़ी कुछ इकाइयों की जांच कर रही है.

गौतम अडाणी की कंपनी ने संभाल लिया मुंबई हवाईअड्डे का मैनजमेंट, बनी देश की सबसे बड़ी एयरपोर्ट इन्फ्रा कंपनी

चौधरी ने अडाणी समूह की उन कंपनियों का नाम नहीं बताया जो सेबी और डीआरआई की जांच के दायरे में हैं. हां, लेकिन उन्होंने यह साफ किया कि प्रवर्तन निदेशालय अडाणी समूह की जांच नहीं कर रहा है. उन्होंने सदन में यह भी बताया कि जून में सेबी ने Albula Investment Fund, Cresta Fund और APMS Investment Fund के फंड को फ्रीज किया था, ये कंपनियां अडाणी कॉन्गलोमरेट ग्रुप की कुछ कंपनियों निवेश हिस्सेदारी रखती हैं.

उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा।

अपनी राय देने के लिए धन्यवाद।

Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news, updates and special offers delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time

आपके खबरें पढ़ने के अनुभव बेहतर बनाने के लिए यह वेबसाइट कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करती है। जिससे आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत हैं। स्वीकार आगे पढ़ें