NEWS LAMP
जो बदल से नज़रिया...

'टीएमसी अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही है, कांग्रेस अल्पसंख्यकों की सबसे बड़ी दुश्मन': पीएम मोदी

Thank you for reading this post, don't forget to subscribe!

न्यूजवायर के साथ एक साक्षात्कार में एएनआईमोदी ने आरक्षण, 2024 के लोकसभा चुनाव, केंद्रीय एजेंसियों द्वारा की गई छापेमारी समेत विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की।

आरक्षण के मुद्दे पर बोले मोदी, 'दलितों के अधिकारों के लिए लड़ूंगा लड़ाई'

इन समुदायों के हितों की रक्षा के महत्व पर बोलते हुए, पीएम मोदी ने कहा, “मैं एससी, एसटी, ओबीसी और अन्य पिछड़े वर्ग के लोगों को सचेत करना चाहता हूं क्योंकि उन्हें अंधेरे में रखकर वे (विपक्ष) उन्हें लूट रहे हैं। चुनाव ऐसा समय है, जब मुझे देशवासियों को आने वाले सबसे बड़े संकट से अवगत कराना चाहिए।”

यह भी पढ़ें: '….नरेंद्र मोदी ओबीसी कैसे हो गए?': आरक्षण विवाद के बीच राहुल गांधी ने पीएम पर निशाना साधा, फिर से जाति जनगणना की वकालत की

मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति के लिए भारत के संविधान की मूल भावना का भी उल्लंघन किया जा रहा है। उन्होंने कहा, “जो लोग खुद को दलितों और आदिवासियों का हितैषी कहते हैं, वे वास्तव में उनके कट्टर दुश्मन हैं…उनके घोषणापत्र में मुस्लिम लीग की छाप है…क्या आप वोट बैंक की खातिर आने वाली पीढ़ियों को भी बर्बाद करना चाहते हैं?…मैं अपने दलित, आदिवासी और ओबीसी भाइयों और बहनों के अधिकारों के लिए लड़ूंगा। और इसीलिए मैं लड़ाई लड़ रहा हूं।” एएनआई.

विपक्ष के इस आरोप पर कि मोदी आरक्षण खत्म कर देंगे, प्रधानमंत्री ने कहा, “उन्होंने यह पाप किया है। मैं इसके खिलाफ बोल रहा हूं और इसीलिए उन्हें झूठ बोलने के लिए ऐसी चीजों का इस्तेमाल करना पड़ता है।”

कलकत्ता उच्च न्यायालय का पश्चिम बंगाल में सभी ओबीसी प्रमाण पत्र रद्द करने का फैसला

पश्चिम बंगाल में 2010 के बाद जारी सभी ओबीसी प्रमाण पत्रों को रद्द करने के कलकत्ता उच्च न्यायालय के फैसले पर बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे एक “कार्यप्रणाली” कहा।

पीएम मोदी ने कहा, “पहले उन्होंने आंध्र प्रदेश में कानून बनाकर अल्पसंख्यकों को देने का पाप शुरू किया, सुप्रीम कोर्ट में वो हार गए, हाईकोर्ट ने उसे खारिज कर दिया क्योंकि संविधान इसकी इजाजत नहीं देता। तो उन्होंने बड़ी चालाकी से पिछले दरवाजे से खेल शुरू किया और इन लोगों ने रातों-रात मुस्लिम की सभी जातियों को ओबीसी बना दिया और ओबीसी के अधिकारों को लूट लिया…जब हाईकोर्ट का फैसला आया तो साफ हो गया कि इतना बड़ा घोटाला हो रहा था। लेकिन इससे भी ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण ये है कि वोट बैंक की राजनीति के लिए अब वो न्यायपालिका का भी दुरुपयोग कर रहे हैं…ये स्थिति किसी भी हालत में स्वीकार्य नहीं हो सकती।”

'मैं हो गया हूं गाली'चुनाव प्रचार के दौरान व्यक्तिगत हमलों पर मोदी ने कहा- 'हमले के सबूत हैं'

चुनाव प्रचार के दौरान व्यक्तिगत हमलों के बारे में पूछे जाने पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा एएनआईउन्होंने कहा, ‘‘जहां तक ​​मोदी का सवाल है तो पिछले 24 साल से लगातार गाली खाने के बाद मैं ‘गाली प्रूफ’ हो गया हूं।

मोदी ने कहा, “किसने मुझे 'देशद्रोही' कहा?मौत का सौदागर' और 'गंदी नाली का कीड़ा'? संसद में हमारी पार्टी के सदस्य ने हिसाब लगाया और गाली-गलौज के 101 मामले गिनाए, तो चुनाव हो या न हो, ये लोग (विपक्ष) मानते हैं कि गाली देने का अधिकार सिर्फ उनको है, और वो इतने कुंठित हो गए हैं कि अब गाली देना उनका स्वभाव बन गया है…”

ईडी, सीबीआई छापों के विपक्ष के आरोपों पर पीएम मोदी

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के इस आरोप पर पीएम मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री तय करते हैं कि कौन जेल जाएगा। मोदी ने कहा कि बेहतर होगा कि ये लोग संविधान पढ़ लें। उन्होंने कहा, “देश का कानून पढ़ लें, मुझे किसी से कुछ कहने की जरूरत नहीं है।”

यह भी पढ़ें: अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी की खबर: रिपोर्ट के मुताबिक 2014 से ईडी के 95% मामले विपक्षी नेताओं के खिलाफ

विपक्ष के इस आरोप पर कि उन्हें दबाने के लिए ईडी, सीबीआई और आईटी का इस्तेमाल किया जा रहा है, पीएम मोदी ने कहा, “जो व्यक्ति यह कचरा फेंक रहा है, उससे पूछिए कि आप जो कह रहे हैं उसका सबूत क्या है… मैं इस कचरे को खाद में बदल दूंगा और इससे देश के लिए कुछ अच्छी चीजें बनाऊंगा…जब मनमोहन सिंह 10 साल तक सत्ता में थे, 34 लाख रुपये जब्त किए गए; पिछले 10 वर्षों में ईडी ने जब्त किए हैं 2,200 करोड़ रुपये वापस लाने वाला उन्होंने कहा, “देश को 2200 करोड़ रुपये देने वाले का सम्मान किया जाना चाहिए, उसका दुरुपयोग नहीं किया जाना चाहिए। जिसका पैसा गया है, वह दुरुपयोग कर रहा है…इसका मतलब यह है कि जो भी पैसा चुराने में शामिल है, वह पकड़े जाने के बाद थोड़ा चिल्लाएगा।”

उन्होंने कहा, “आज एक सरपंच को चेकबुक पर हस्ताक्षर करने का अधिकार है, लेकिन देश के प्रधानमंत्री को यह अधिकार नहीं है…मोदी सरकार ने अपने अधिकारियों से कहा है कि मेरी सरकार भ्रष्टाचार के प्रति जीरो टॉलरेंस रखती है।”

यह भी ध्यान देने योग्य है कि भारत सरकार के राजस्व विभाग के तहत काम करने वाली ईडी ने एक रिपोर्ट के अनुसार 2014 से विपक्षी नेताओं के खिलाफ 95% मामले दर्ज किए हैं। इंडियन एक्सप्रेस.

कश्मीर में मतदान प्रतिशत अधिक

कश्मीर में भारी मतदान पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “सबसे पहले मैं अपने देश की न्याय व्यवस्था से प्रार्थना करना चाहूंगा कि अगर सरकार कोई काम करना चाहती है तो उसके लिए उसके पास कोई डिजाइन और रणनीति हो।

“ऐसी समस्याओं को हल करने के लिए उस रणनीति के तहत काम करना पड़ता था। अब कभी-कभी मुझे इसके लिए इंटरनेट बंद करना पड़ता है। कुछ एनजीओ कोर्ट चले गए, जो एक बड़ा मुद्दा बन गया, लेकिन आज वहां के बच्चे गर्व से कहते हैं कि पिछले 5 सालों से इंटरनेट बंद नहीं हुआ है और हमें पिछले 5 सालों से सारी सुविधाएं मिल रही हैं। कुछ दिनों के लिए थोड़ी तकलीफ जरूर हुई, लेकिन एक अच्छे काम के लिए।”

पीएम ने कहा, “देश को ऐसे एनजीओ से बचाना बहुत जरूरी है। दूसरी बात, जब आम आदमी वहां वोट करता है, तो वो सिर्फ किसी को जिताने के लिए नहीं होता, वोट देने का मतलब होता है कि मतदाता भारत के संविधान को स्वीकार करता है और भारत की संपूर्ण भावना के प्रति अपना समर्पण व्यक्त करता है।”

'अनुच्छेद 370 केवल 4-5 परिवारों का एजेंडा था', पीएम मोदी

अनुच्छेद 370 को हटाने के अपने फैसले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह “केवल 4-5 परिवारों का एजेंडा” था। उन्होंने आगे जोर देकर कहा कि अनुच्छेद 370 न तो “कश्मीर के लोगों का एजेंडा था और न ही देश के लोगों का एजेंडा” था।

मोदी ने कहा, ‘‘अपने फायदे के लिए उन्होंने 370 की ऐसी दीवार खड़ी कर दी थी और कहते थे कि 370 हटेगा तो आग लग जाएगी…आज यह सच हो गया है कि 370 हटने के बाद और अधिक एकता की भावना पैदा हुई है। कश्मीर के लोगों में अपनेपन की भावना बढ़ रही है और इसलिए इसका सीधा परिणाम चुनावों में, पर्यटन में भी दिख रहा है।’’

ओडिशा में विधानसभा चुनाव

पीएम मोदी ने कहा कि ओडिशा का भाग्य बदलने वाला है। उन्होंने कहा, “मैंने कहा है कि मौजूदा ओडिशा सरकार की समाप्ति तिथि 4 जून है और 10 जून को ओडिशा में भाजपा का सीएम शपथ लेगा।”

उन्होंने कहा, “पिछले 25 सालों में ओडिशा में कोई प्रगति नहीं हुई है, और सबसे बड़ी चिंता की बात ये है कि एक समूह ने ओडिशा की पूरी व्यवस्था को अपने कब्जे में ले लिया है, ऐसा लगता है कि पूरी व्यवस्था को बंधक बना लिया गया है। अगर ओडिशा बंधनों से बाहर आ जाए, तो ओडिशा फलेगा-फूलेगा। ये ओडिशा की अस्मिता का सवाल है। ओडिशा के पास इतने प्राकृतिक संसाधन हैं, इतने समृद्ध राज्य में गरीब लोगों को देखकर दुख होता है, ओडिशा भारत के समृद्ध राज्यों में से एक है, उसके पास इतनी प्राकृतिक संपदा है और ओडिशा भी भारत के गरीब लोगों के राज्यों में से एक है, इसलिए इसकी जिम्मेदारी सरकार की है कि ओडिशा के लोगों को उनका हक मिले।”

पीएम मोदी ने कहा, 'टीएमसी बंगाल में अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही है'

पीएम मोदी ने ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली पश्चिम बंगाल सरकार की आलोचना की और कहा, “टीएमसी पार्टी बंगाल चुनाव में अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही है।”

मोदी ने कहा, “पिछले विधानसभा चुनाव में हम तीन सीटें जीत चुके थे और बंगाल के लोगों ने हमें 80 सीटों पर पहुंचा दिया. पिछले लोकसभा चुनाव में हमें भारी बहुमत मिला. इस बार भारत में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाला राज्य पश्चिम बंगाल होगा. पश्चिम बंगाल में भाजपा को सबसे ज्यादा सफलता मिल रही है. पश्चिम बंगाल का चुनाव एकतरफा है, जनता इसका नेतृत्व कर रही है और इस वजह से सरकार में बैठे लोग, टीएमसी के लोग हताश हैं… चुनाव से पहले भाजपा कार्यकर्ताओं को जेलों में डाला जा रहा है. इन सब अत्याचारों के बावजूद भी ज्यादा लोग वोट कर रहे हैं और वोटों की संख्या भी बढ़ रही है.”

यह भी पढ़ें: तेजस्वी यादव, टीएमसी, अन्य विपक्षी नेताओं ने पीएम मोदी की 'मुजरा' टिप्पणी की निंदा की: 'उसे डॉक्टर के पास ले जाएं'

लोकसभा चुनाव के छह चरण पूरे हो चुके हैं। आखिरी चरण 1 जून को आठ राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की 57 सीटों पर होगा। नतीजे 4 जून को घोषित किए जाएंगे।

(एएनआई से इनपुट्स सहित)

आप मिंट पर हैं! भारत का #1 न्यूज़ डेस्टिनेशन (स्रोत: प्रेस गजट)। हमारे बिज़नेस कवरेज और मार्केट इनसाइट के बारे में ज़्यादा जानने के लिए यहाँ क्लिक करें!

लाइव मिंट पर राजनीति से जुड़ी सभी खबरें और अपडेट पाएं। दैनिक बाज़ार अपडेट्स और लाइव बिज़नेस न्यूज़ पाने के लिए डाउनलोड करें मिंट न्यूज़ ऐप।

अधिक कम

प्रकाशित: 28 मई 2024, 12:08 PM IST

Loading spinner
एक टिप्पणी छोड़ें
Subscribe to our newsletter
Sign up here to get the latest news, updates and special offers delivered directly to your inbox.
You can unsubscribe at any time